लीट एग्जाम क्या है ? LEET Exam हिंदी में

लीट-एग्जाम-क्या-है

लीट एग्जाम क्या है ?

आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएँगे की लीट एग्जाम क्या है ? लीट एग्जाम को कैसे क्रैक करे ? और साथ ही हम आपको लीट एग्जाम से जुड़े सभी प्रश्नो के उत्तर देने का प्रयास करेंगे और LEET Exam से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण बाते आपके साथ साझा करेंगे , जिससे आपका भविष्य उज्वल होगा |

LEET Exam क्या है ?

लीट एक एंट्रेंस एग्जाम है | किसी भी सरकारी टेक्निकल इंजीनियरिंग इंस्टीट्यूट के द्वारा जो इंजीनियरिंग कोर्स ऑफर किया जाता है उन कोर्स के डायरेक्ट सेकंड ईयर में एडमिशन लेने के लिए स्टूडेंट्स को एग्जाम क्लियर करना होता है |

लीट एग्जाम क्या है ?

लीट-एग्जाम-क्या-है
लीट-एग्जाम-क्या-है

 

लीट एक एंट्रेंस एग्जाम टेस्ट है जिसे पास करने के बाद आपको इंजीनियरिंग करने का एक अच्छा कॉलेज मिलता है | इसे पास करने के बाद आपको बीटेक, बीई, टेक्निकल इंजीनियरिंगआदि की दूसरी साल में एडमिशन मिल जाता है | और एक बात बता दू की एनआईटी लेटरल एंट्री प्रोवाइड नहीं कराते हैं|

आप इस एग्जाम को 12th के बाद दे सकते हो | ट्वेल्थ की पढ़ाई पूरी करने के बाद बहुत सारे स्टूडेंट इंजीनियरिंग के फील्ड में जाना चाहते हैं| इंडिया में बहुत सारे गवर्नमेंट एंड प्राइवेट ( सरकारी और गैर सरकारी ) टेक्निकल इंजीनियरिंग इंस्टीट्यूट अवेलेबल है जिनमें आप एडमिशन ले सकते हैं और इंजीनियरिंग का कोर्स कर सकते हैं | और हर एक अवेलेबल इंस्टिट्यूट का अलग-अलग एंट्रेंस एग्जाम होता है इनमें से कुछ एंट्रेंस एग्जाम नेशनल लेवल पर होते हैं तो कुछ स्टेट लेवल पर होते हैं और कुछ इंस्टिट्यूशन लेवल पर भी एंट्रेंस एग्जाम कंडक्ट कराया जाता है

लीट एग्जाम की फुल फॉर्म: लेटरल एंट्री एंट्रेंस टेस्ट

LEET FULL FORM: Legal Education Eligibility Test

इसका नाम लैटरल एंट्री एंट्रेंस टेस्ट इसलिए पड़ा है क्योंकि इस एग्जाम को देने के बाद स्टूडेंट्स को डायरेक्ट सेकंड ईयर में एडमिशन मिल जाता है |

लीट एग्जाम : स्टेट लेवल एग्जाम

लीट-एग्जाम-क्या-है
लीट-एग्जाम-क्या-है

लीट एक स्टेट लेवल एग्जाम है क्योंकि हर एक राज्य का अपना एक अलग अलग लीट एग्जाम होता है | इंजीनियरिंग कोर्सेज के लिए बहुत सारे कॉलेज और इंस्टीट्यूट हर साल एंट्रेंस एग्जाम कंडक्ट कराते हैं जिनमें कुछ एग्जाम नेशनल लेवल पर कुछ स्टेट लेवल पर और कुछ इंस्टिट्यूशन लेवल पर एग्जाम होते है| तो जितने भी डिप्लोमा होल्डर हैं उन्हें इंजीनियरिंग कोर्स के डायरेक्ट सेकंड ईयर में एडमिशन मिल जाता है अगर वह लीट एंट्रेंस एग्जाम को क्लियर कर लेते हैं|

AICTE

जिन विद्यार्थीओ ने एआईसीटीई द्वारा अप्रूव्ड इंस्टीट्यूट से टेक्नोलॉजी या फिर इंजीनियरिंग के किसी भी ब्रांच से डिप्लोमा करा है वह इस एग्जाम के लिए एलिजिबल होते हैं | एडमिशन लेने से पहले ये जरूर देखलेना की यह इंस्टिट्यूट एप्रूव्ड है या नहीं , अगर आपका इंस्टिट्यूट एआईसीटीई से एप्रूव्ड नहीं है तो आपका चयन नहीं होगा| 

एआईसीटीई की फूल फॉर्म: ऑल इंडिया काउंसिल फॉर टेक्निकल एजुकेशन

लीट एग्जाम की शैक्षिक योग्यता

लीट-एग्जाम-क्या-है
लीट-एग्जाम-क्या-है

 

  • आपके पास किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से डिप्लोमा पास होना चाहिए और साथ में 10th क्लास का सर्टिफिकेट होना भी जरूरी है
  • अगर आपने 10th के बाद इलेवंथ क्लास भी पढ़ ली है और ट्वेल्थ क्लास भी कर लिया है आपने तो 12th के बाद आपके पास डिप्लोमा होना चाहिए
  • अगर विद्यार्थी जनरल कैटेगरी से बिलॉन्ग करते हैं | तो उनके 45% मार्क्स होने चाहिए
  • एससी एसटी के लिए कम से कम 40% मार्क्स
  • जनरल कैटिगरी – बीएससी डिग्री कम से कम 45% मार्क्स के साथ
  • रिजर्व्ड कैटिगरी – बीएससी डिग्री कम से कम 40% मार्क्स के साथ
  • 12TH में आपके पास मैथमेटिक्स सब्जेक्ट का होना जरूरी है
  • हर राज्य में इसकी एज लिमिट अलग-अलग होती है

लीट की परीक्षा

  • लीट एग्जाम ऑनलाइन मोड में होता है
  • लीट में सिर्फ एक ही पेपर होता है
  • लीट पेपर ऑब्जेक्टिव टाइप का होता है ( एमसीक्यू )
  • आपको सिर्फ 90 मिनट मिलते हैं एक पेपर को कंप्लीट करने के लिए
  • 90 नंबर के 90 क्वेश्चन पूछे जाते है | नेगेटिव मार्किंग नहीं है  इसका मतलब एक सवाल एक नंबर का एक मिनट में करना है |
  • लीट एग्जाम सिर्फ इंग्लिश में आएगा

लीट एग्जाम का परीक्षा पैटर्न

अधिक जानकारी के लिए आप नीचे दिए गए टेबल को ध्यानपूर्वक पढ़े-

लीट-एग्जाम-क्या-है
लीट-एग्जाम-क्या-है

 

लीट एग्जाम का सेक्शन

इसमें चार सेक्शन होते है | उन सभी सब्जेक्ट्स को आप ध्यान से मन लगाकर पढ़लेना आपका एग्जाम एक बार में ही क्लियर हो जाएगा |

  • सेक्शन A – बेसिक साइंस – फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथ्स, जनरल अवेयरनेस और कम्युनिकेशन स्किल्स
  • सेक्शन B – इलेक्ट्रॉनिक सुप्रीम कोर्स – एलिमेंट्स ऑफ़ इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग, एलिमेंट्स ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग, एलिमेंट्स ऑफ कंप्यूटर इंजीनियरिंग
  • सेक्शन C – मैकेनिकल स्ट्रीम कोर्स – एलिमेंट्स ऑफ इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग, एलिमेंट्स ऑफ़ प्रोडक्शन इंजीनियरिंग या फिर मैन्युफैक्चरिंग प्रोसेस, ऑटो इंजीनियरिंग
  • सेक्शन D – इंजीनियरिंग स्ट्रीम – सिविल इंजीनियरिंग कोर्सेज, टैक्सटाइल इंजीनियरिंग, केमिकल / प्रिंटिंग इंजीनियरिंग, सिरेमिक इंजीनियरिंग, फ़ूड टेक्नोलॉजी, आदि
लीट-एग्जाम-क्या-है
लीट-एग्जाम-क्या-है

 

आप जिस किसी भी स्टेट का एग्जाम देने वाले हैं उसकी और डिटेल्स आपको पहले पता करनी होगी | इनको वेबसाइट पे जाकर या फिर अपने गुरु से पूछकर |  उसके बाद आप इस एग्जाम के लिए अप्लाई करना क्योंकि जैसा कि मैंने आपको बताया कि यह स्टेट लेवल एंट्रेंस एग्जाम है जो कि हर  राज्य में अलग अलग होता है सभी के नियम एक दुसरे से अलग है |

FAQ

Q : What is LEET exam

Ans : लीट एक एंट्रेंस एग्जाम टेस्ट है |जो भी विद्यार्थी सरकारी कॉलेज से बटेक या बीई करना कहता है | उसे ये एग्जाम पास करना होगा |  पास करते ही अप्पको सेकंड ईयर में एडमिशन मिल जाएगा ( आपका एक साल बच जाएगा ) | सौ बात की एक बात यह है की – सरकारी टेक्निकल इंजीनियरिंग इंस्टीट्यूट के द्वारा जो इंजीनियरिंग कोर्स ऑफर किया जाता है उन कोर्स के डायरेक्ट सेकंड ईयर में एडमिशन लेने के लिए स्टूडेंट्स को एग्जाम क्लियर करना होता है |

Q : LEET exam eligibility

Ans : 12TH के बाद आप लीट एग्जाम दे सकते हो | 12TH में आपके कम से कम 50 % मार्क्स होने चाहिए और आपके पास मैथ्स सब्जेक्ट भी होना चाहिए |

Q : LEET Exam Kya Hota Hai

Ans : लीट एक एंट्रेंस एग्जाम टेस्ट होता है | जिससे हमे इंजीनियरिंग के सेकंड ईयर में एडमिशन मिल जाता है |

Q : LEET exam syllabus

Ans :  लीट एग्जाम का सिलेबस ज्यादा बड़ा नहीं है | अगर आप ठान लो तो सिर्फ 3 महीने में इस एग्जाम को क्रैक कर सकते हो | सिलेबस इसी पेज पर आर्टिकल में दिया गया है | आप उसे ध्यान से पढ़ो |

Q : लीट की फुल फॉर्म क्या है ?
Ans :लीट की फुल फॉर्म लेटरल एंट्री एंट्रेंस टेस्ट है|

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे | ताकि उनका भी भला हो जाए |

धन्यवाद

Read also: कैट एग्जाम क्या है? कैट एग्जाम की तैयारी कैसे करे ?

Scroll to Top
Copy link
Powered by Social Snap