बीएससी कंप्यूटर साइंस क्या होता है ? CS में करियर कैसे बनाये

बीएससी-कंप्यूटर-साइंस-क्या-होता-है

बीएससी कंप्यूटर साइंस क्या होता है ? CS में करियर कैसे बनाये

आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताने जा रहे है बीएससी कंप्यूटर साइंस के बारे में , बीएससी कंप्यूटर साइंस क्या होता है ? CS में करियर कैसे बनाये, बीएससी कंप्यूटर साइंस क्या होता है, बीएससी कंप्यूटर साइंस कैसे करे ? साथ ही हम आपको इससे जुडी महत्वपूर्ण जानकारी साझा करेंगे | जिससे आपके मन में लगभग जितने भी सवाल है उन सभी का उत्तर आपको इस आर्टिकल में मिल जाएगा |

बीएससी कंप्यूटर साइंस क्या होता है ?

कंप्यूटर साइंस का मतलब होता है कंप्यूटर के पूरे साइंस के बारे में जानना अगर कंप्यूटर की बात करें तो इसमें दो चीजें होती हैं |

  • हार्डवेअर
  • सॉफ्टवेयर

कंप्यूटर साइंस की पढ़ाई में हमें सिर्फ सॉफ्टवेयर के बारे में पढ़ाया जाता है और अगर आपको हार्डवेयर की पढ़ाई करनी है तो इसकी पढ़ाई अलग होती है कंप्यूटर इंजीनियरिंग में आपको हार्डवेयर के बारे में पढ़ाया जाता है|

बीएससी कंप्यूटर साइंस कोर्स क्या होता है?

बीएससी-कंप्यूटर-साइंस-क्या-होता-है
बीएससी-कंप्यूटर-साइंस-क्या-होता-है

अगर आपका इंटरेस्ट कंप्यूटर के सॉफ्टवेयर में है तभी आप इसको तो कीजिएगा क्योंकि यह जो कोर्स है इसमें आपको सिर्फ और सिर्फ सॉफ्टवेयर के बारे में पढ़ा जाता है यदि आपको हार्डवेयर के बारे में पढ़ने में इंटरेस्ट है तो फिर आपको बीएससी कंप्यूटर साइंस कोर्स नहीं करना चाहिए क्योंकि इसमें आपको केवल सॉफ्टवेयर के बारे में ही बताया जाता है| यदि आपको सॉफ्टवेयर में दिलचस्पी नहीं है तो यह कोर्स आपके लिए नहीं है | क्युकी इसमें बहुत साडी कोडन सिखाई जाती है | समय समय पर प्रैक्टिकल भी होते है | आपको टास्क भी दिए जाते है | और उन सबमे आपको कोडिंग की जरूरत पड़ती है|

जब आपको कंप्यूटर के हार्डवेयर के बारे में जानकारी होती है तब आपके पास जॉब के उतने ज्यादा ऑप्शंस नहीं होते हैं लेकिन जब आपको कंप्यूटर के सॉफ्टवेयर के बारे में ज्ञान होता है तब आपके पास नौकरी के बहुत सारे रस्ते होते हैं अगर आपने कंप्यूटर साइंस से डिग्री हासिल की है तो आपके लिए भी नौकरी के बहुत सारे रस्ते खुले है|

बीएससी कंप्यूटर साइंस की शैक्षिक योग्यता क्या होती है ?

बीएससी-कंप्यूटर-साइंस-क्या-होता-है
बीएससी-कंप्यूटर-साइंस-क्या-होता-है

 

बीएससी कंप्यूटर साइंस 3 साल का अंडरग्रैजुएट कोर्स है | इसमें पूरे 6 सेमेस्टर होते हैं | आपको कंप्यूटर एप्लीकेशन और सर्विस के बारे में पढ़ाया जाता है बीएससी कंप्यूटर साइंस कुछ इस तरह से डिजाइन किया गया है | इस कोर्स में आपको सॉफ्टवेयर इंडस्ट्री में अपना करियर बनाने के बारे में पूरी जानकारी मिल जाती है|

  • आपको साइंस सब्जेक्ट के साथ 12th पास होना चाहिए
  • अगर आप सिर्फ टेंथ पास है| 10th के बाद टेक्निकल फील्ड में 3 इयर्स का डिप्लोमा किया है तो और भी अच्छी बात है तब आपको बीएससी कंप्यूटर साइंस में डायरेक्ट सेकंड ईयर में एडमिशन मिल जाएगा
  • ज्यादातर यूनिवर्सिटी में बीएससी कंप्यूटर साइंस प्रोग्राम का मेरिट बेस पर ही एडमिशन मिल जाता है और उसके फॉर्म जो है वह मई से जून में आते हैं इसके बाद यूनिवर्सिटी कट ऑफ लिस्ट जारी करते हैं जो स्टूडेंट कटऑफ को पूरा करते हैं उन्हें पर्टिकुलर यूनिवर्सिटी में एडमिशन मिल जाता है

बीएससी कंप्यूटर साइंस की फीस

स्कूल की फीस गवर्नमेंट इंस्टिट्यूट में कम है और प्राइवेट इंस्टिट्यूट में ज्यादा | गवर्नमेंट इंस्टिट्यूट में इसकी फीस सालाना 15000 से लेकर के 25000 तक की है | अगर स्कालरशिप मिल गयी तो सारी फीस वापिस भी हो जाती है | प्राइवेट कॉलेज में इसकी फीस लगभग एक लाख के आसपास पहुंच जाती है|

बीएससी कंप्यूटर साइंस फील्ड में फ्रेशर्स का काम

बीएससी कंप्यूटर साइंस फील्ड में जो फ्रेशर्स होते हैं | जिनके पास अभी वर्क एक्सपीरियंस भी नहीं है | उन्हें भी एक सक्सेसफुल करियर बनाने का मौका मिलता है | इस कोर्स को करने के बाद स्टूडेंट केवल आईटी सेक्टर में ही नहीं बल्कि और भी बहुत से सेक्टर में नौकरी हासिल कर सकते हैं जैसे कि-

  • डाटा पब्लिशिंग
  • फाइनेंसियल इंस्टिट्यूट
  • कंसलटेंसी, आदि
बीएससी-कंप्यूटर-साइंस-क्या-होता-है
बीएससी-कंप्यूटर-साइंस-क्या-होता-है

 

जरूरी नहीं कि आप आईटी सेक्टर में जॉब करें अगर आप बीएससी कंप्यूटर साइंस की डिग्री से ग्रेजुएट हैं तो आपके पास बहुत सारे इंडस्ट्रीज में मौके मिल जाती है जैसे कि-

  • कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग कंसलटेंसी
  • रिसर्च एंड डेवलपमेंट एजेंसीज
  • स्कूल एंड कॉलेज
  • कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट
  • टेक डिपार्टमेंट
  • होम ट्यूशंस
  • प्राइवेट ट्यूशन
  • कोचिंग सेंटर
  • बैंक
  • टेक्निकल सपोर्ट
  • ट्रैफिक लाइट मैनेजमेंट
  • कंसलटेंसी
  • इंश्योरेंस प्रोवाइडर
  • सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट
  • कंपनीज सिक्योरिटी एंड सर्विलेंस
  • कंपनी सिस्टम मेंटेनेंस
  • कंप्यूटर एंड रिलेटेड सर्विस
  • इलेक्ट्रॉनिक इक्विपमेंट मैन्युफैक्चरर

बीएससी कंप्यूटर साइंस जॉब में स्टार्टिंग में सैलेरी कितनी मिलती है?

बीएससी-कंप्यूटर-साइंस-क्या-होता-है
बीएससी-कंप्यूटर-साइंस-क्या-होता-है

 

स्टार्टिंग सैलेरी तो आपकी कंपनी पर डिपेंड करती है और साथ के साथ आपके वर्क एक्सपीरियंस पर भी डिपेंड करती है| की आपको काम का कितना तज़ुर्बा है | उस काम को कितने तरीके से कर सकते हो | आपको आदत है या नहीं आदि | लेकिन अगर लगभग में बात करें तो इसमें आपकी सैलरी सालन 3 से लेकर के 7 लाख तक मिलेगी | आपको जो भी सैलरी मिलेगी वह कंपनी पर भी डिपेंड करता है और साथ में आपके एक्सपीरियंस पर भी डिपेंड करता है |

बीएससी कंप्यूटर साइंस में वर्क एक्सपीरियंस

जितना ज्यादा आपके पास वर्क एक्सपीरियंस होगा वैसे ही आपकी सैलरी भी बढ़ेगी तो जवाब बीएससी कंप्यूटर साइंस की डिग्री कंप्लीट कर लेते हैं और फिर आप चाहे जब भी कर सकते हैं लेकिन अगर आपको और भी ज्यादा पढ़ाई करनी है अपनी आगे की पढ़ाई जारी रखनी है तो आप कंप्यूटर साइंस में ही पोस्ट ग्रेजुएशन भी कर सकते हैं इसके अलावा आप एमबीए आईटी कर सकते हैं एमसीए कर सकते हैं और एमएससी कंप्यूटर साइंस भी कर सकते है | अगर आप बीएससी कंप्यूटर साइंस को कंप्लीट करने के बाद इनमें से कोई कोर्स करते हैं तो फिर आपको एक बैटर जॉब प्लेसमेंट मिल सकती है|

बीएससी-कंप्यूटर-साइंस-क्या-होता-है
बीएससी-कंप्यूटर-साइंस-क्या-होता-है

 

FAQ

Q : बीएससी कंप्यूटर साइंस जॉब्स |

Ans : बीएससी कंप्यूटर साइंस में बहुत साडी जॉब्स है| जैसे की –

  • कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग कंसलटेंसी
  • रिसर्च एंड डेवलपमेंट एजेंसीज
  • स्कूल एंड कॉलेज
  • कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट
  • टेक डिपार्टमेंट
  • होम ट्यूशंस
  • प्राइवेट ट्यूशन
  • कोचिंग सेंटर
  • बैंक

Q : बीएससी कंप्यूटर साइंस सिलेबस |

Ans : बीएससी कंप्यूटर साइंस का सिलेबस आपको कॉलेज की वेबसाइट से मिल जाएगा , आप अपने कॉलेज का नाम गूगल पर टाइप करे , हर कॉलेज का सिलेबस अलग होता है | तो ध्यान से सिलेबस को डाउनलोड करना |

Q : बीएससी कंप्यूटर साइंस फीस |

Ans : बीएससी कंप्यूटर साइंस की फिर सरकारी कॉलेज में 25 हज़ार सालाना हो सकती है और प्राइवेट कॉलेज में सालाना एक लाख तक जा सकती है | 

Q : कंप्यूटर साइंस कोर्स |

Ans : बीएससी कंप्यूटर साइंस कोर्स की पूरी जानकारी आपको इस आर्टिकल में मिल जाएगी | 

Q : कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग सैलरी |
Ans : कंप्यूटर साइंस की सैलरी डिपेंड करती है की आप प्राइवेट में काम कर रहे हो या सरकारी संसथान में | प्राइवेट में ज्यादा है सरकारी के मुकाबले | प्राइवेट में आपको साल की 6 लाख मिलेगी और सरकारी में आपको 5 के आस पास | डिपेंड करता है की आप किस फील्ड में है |

Q : कंप्यूटर साइंस क्या है ?
Ans : बीएससी कंप्यूटर साइंस कोर्स एक अंडरग्रेजुएट कोर्स है | 

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे |

धन्यवाद

Read also:

11th 12th class का सरकारी टीचर कैसे बने ?

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top
Copy link
Powered by Social Snap